Friday, Sep 19th

Last update05:16:36 PM GMT

You are here:: स्वास्थ्य

Warning: Attempt to modify property of non-object in /home/nnilive/public_html/components/com_jomcomment/mambots.php on line 143

स्वास्थ्य

खीरा हैं पिंपल्स का इलाज

E-mail Print PDF

नई दिल्ली.NNI.03 दिसम्बर। कील, मुंहासे और पिंपल्स चेहरे की खूबरसूरती बिगाड़ देते हैं। ये स्कीन की चमक को तो फीका करते ही हैं, साथ में पिंपल्स के कारण फेस पर पड़ने वाले दाग-धब्बे और भी परेशान करते हैं।

AddThis Social Bookmark Button

चॉकलेट हैं "दिल" की दवा

E-mail Print PDF

नई दिल्ली.NNI.02दिसम्बर। चॉकलेट के शौकीनों के लिए यह एक अच्छी खबर हो सकती है, क्योंकि अब उन्हें चॉकलेट खाने का एक नया बहाना मिल गया है। वैज्ञानिकों के अनुसार चॉकलेट दिल से जुड़े रोगों की सबसे कारगर दवा है। यह ब्लड प्रेशर को कम कर हर्ट अटैक के खतरे से भी बचाता है।

AddThis Social Bookmark Button

अधिक उम्र के लिये खाना कम खाओ

E-mail Print PDF

नई दिल्ली.NNI.01 दिसम्बर । आप मानें या ना मानें, पर यह सच है। एक नए अध्ययन में पता चला है कि जो कम खाते हैं, उनकी उम्र ओवर इटिंग करने वालों के मुकाबले अधिक होती है।

AddThis Social Bookmark Button

कई रोगों का निवारण है प्याज़

E-mail Print PDF

नई दिल्ली.NNI.30 नवम्बर। "प्याज़" आपके आंसू भले ही निकालता हो, लेकिन सेहत के नजरिए से यह काफी फायदेमंद है। वैज्ञानिकों का दावा है कि प्याज खाने से दिल संबंधी रोगों का खतरा बहुत हद तक घट जाता है।

AddThis Social Bookmark Button

ब्रेन कैंसर से बचना चाहते है तो सेलफोन पर करें कम बात

E-mail Print PDF

नई दिल्ली.NNI.11 अक्टूबर। अगर आप ब्रेन कैंसर से बचना चाहते है तो अपने मोबाइल से कम बात करें। क्यों कि मोबाईल का ज्यादा देर इस्तेमाल करने से हो सकता है आपको खतरा। अमेरिकी वैज्ञानिकों ने खुलासा किया है कि मोबाइल फोन से निकलने वाली तरंगों से ब्रेन कैंसर हो सकता है। सेलफोन का लंबे वक्त तक लगातार इस्तेमाल खतरे की घंटी है और आने वाले तीन साल में ये मुसीबत साढ़े चार अरब लोगों को अपनी चपेट में ले सकती है।

AddThis Social Bookmark Button

Page 25 of 25